हिन्दी

IND Vs ENG: India May Have Lost First Test Due To These Three Mistakes Of Kohli

India vs England 1st Test: भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट में अब तक टीम इंडिया के पक्ष में कुछ भी नहीं रहा है. टॉस हो या फिर DRS, सबकुछ इंडिया के खिलाफ ही रहा है. हालांकि, भारत के इस दुर्दशा का कारण कप्तान विराट कोहली के कुछ गलत फैसले भी रहे हैं. अब ऐसा लग रहा है कि कोहली की गलतियों के कारण भारत को पहला टेस्ट गवाना पड़ सकता है.

1- कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल न करना

इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में कप्तान विराट कोहली ने चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं किया. कुलदीप इंग्लिश बल्लेबाज़ों के लिए एक पहेली साबित हो सकते थे. अपने आखिरी टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने पांच विकेट भी झटके थे. साथ ही चेपॉक में अब गेंद रुक कर आ रही है, ऐसे में कुलदीप को दूसरी पारी में खेलना इंग्लैंड के लिए टेढ़ी खीर साबित हो सकता था.

2- शाहबाज़ नदीम का चयन

कप्तान कोहली ने लेफ्ट आर्म स्पिनर शाहबाज़ नदीम को प्लेइंग इलेवन में शामिल कर सभी को चौंका दिया था. नदीम इंग्लैंड के खिलाफ कोई प्रभाव नहीं छोड़ सके. उन्होंने पहली पारी में 44 ओवर गेंदबाजी की, जिसमें 167 रन लुटा दिए और सिर्फ दो विकेट ही हासिल किए. इंग्लिश बल्लेबाज उनके सामने आसानी से रन बना रहे थे. कुलदीप की जगह शाहबाज नदीम को टीम में शामिल करने पर कई पूर्व क्रिकेटरों ने भी सवाल उठाए हैं.

3- DRS लेने में चूक

इस टेस्ट में कोहली ने DRS लेने में भी कई गलतियां की. उन्होंने दो ओवरों में लगातार ऐसे मौको पर दो DRS लिए, जहां वह पूरी तरह आश्वस्त भी नहीं थे. वहीं इसका नतीजा यह हुआ कि जब टीम को ज़रूरत थी, उस मौके पर DRS बचे ही नहीं थे. वॉशिंगटन सुदंर की गेंद पर जोस बटलर साफ आउट थे, लेकिन अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया. ऐसे मौके पर DRS ज़रूरी था, लेकिन कोहली पहले ही इसे गवा चुके थे.

चेन्नई टेस्ट का लेखा-जोखा

एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट में इंग्लैंड ने कप्तान जो रूट के शानदार 218 रनों की बदौलत अपनी पहली पारी में 578 रन बनाए हैं. इसके जवाब में भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक अपनी पहली पारी में 257 रनों पर छह विकेट गवा दिए हैं. भारत अभी भी इंग्लैंड से 321 रन पीछे है. ऐसे में चौथे दिन उसके सामने फॉलोऑन से बचने की बड़ी चुनौती होगी.

यह भी पढ़ें- 

ICC ने बेस्ट कवर ड्राइव के लिए किया पोल, जानें कोहली, रूट, विलियमसन और बाबर आज़म में कौन रहा विजेता

Source

Show More

Related Articles

Back to top button