हिन्दी

शार्दुल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने ठोका अर्धशतक, सहवाग ने ऐसे किया सलाम

India vs Australia: अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) और शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) ने गेंदबाजी के बाद बढ़िया बल्लेबाजी कर फैंस का दिल जीता, वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) भी बने मुरीद

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 17, 2021, 11:16 AM IST

नई दिल्ली. सिडनी टेस्ट में जबर्दस्त बल्लेबाजी कर मैच ड्रॉ कराने वाली टीम इंडिया ने ब्रिसबेन में भी ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को नाके चने चबवा दिये. टीम इंडिया ने मैच की पहली पारी में अपने 6 विकेट सिर्फ 186 रनों पर गंवा दिये थे ऐसा लग रहा था कि अब भारतीय टीम जल्द ही सिमट जाएगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं. ऑस्ट्रेलिया की राह में दीवार बनकर खड़े हो गए शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) और वॉशिंगटन सुंदर (Washington Sundar). ये दोनों ही खिलाड़ी अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हैं लेकिन इसके बावजूद ठाकुर और वॉशिंगटन ने बेहद सुंदर बल्लेबाजी की. शार्दुल ठाकुर ने अपनी पहली टेस्ट हाफसेंचुरी लगाई, लायन की गेंद पर छक्का लगाकर उन्होंने अपने पचास रन पूरे किये. वॉशिंगटन सुंदर ने भी अपनी पहली ही टेस्ट पारी में अर्धशतक जमाया. दोनों खिलाड़ियों ने सातवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी भी की. शार्दुल और सुंदर की बल्लेबाजी देख वीरेंद्र सहवाग भी इन दोनों बल्लेबाजों के मुरीद बन गए.

वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘इस भारतीय टीम के साहस को अगर एक शब्द में बयां करें तो एक ही शब्द जहन में आता है- दबंग. बेहद साहसी और बहादुर. अति सुंदर ठाकुर.’ इसके अलावा सहवाग ने गाबा के मैदान को वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर के लिए ढाबा बता दिया.

गेंदबाजी में भी चमके वॉशिंगटन और शार्दुल
वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ऑस्ट्रेलिया दौरे पर सिर्फ लिमिटेड ओवर क्रिकेट टीम का हिस्सा थे और टेस्ट सीरीज के लिए वो बतौर नेट गेंदबाज टीम के साथ थे. लेकिन चोट की वजह से इन दोनों खिलाड़ियों को ब्रिसबेन टेस्ट में मौका मिला और दोनों ने गेंद से जबर्दस्त प्रदर्शन करते हुए 3-3 विकेट लिये. सुंदर ने अपना पहला टेस्ट विकेट स्टीव स्मिथ के तौर पर लिया और इसके साथ-साथ उन्होंने कैमरन ग्रीन को भी पैवेलियन की राह दिखाई. शार्दुल ठाकुर ने भी पहली ही गेंद पर हैरिस का विकेट चटकाया था. इसके बाद बल्ले से भी उन्होंने अपना दमखम दिखाया. यही वजह है कि सहवाग जैसे दिग्गज उनके हौसले को सलाम कर रहे हैं.




Source

Show More

Related Articles

Back to top button