हिन्दी

अजिंक्य रहाणे ने आपदाग्रस्त टीम को यूँ अवसर में बदल डाला

  • आदेश कुमार गुप्त
  • वरिष्ठ खेल पत्रकार

ब्रिस्बेन में मेज़बान ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ चौथे और आख़िरी टेस्ट मैच के अंतिम दिन जब भारत जीत के लिए 328 रन के लक्ष्य का पीछा कर रहा था तब चायकाल के बाद मैच में एक दिलचस्प मोड़ आया.

तब तक 80 ओवर हो चुके थे और भारत का स्कोर तीन विकेट पर 228 रन था. चेतेश्वर पुजारा 210 गेंदों का सामना कर 56 और ऋषभ पंत 34 रन बनाकर खेल रहे थे. भारत और जीत के बीच पूरे 100 रन का अंतर रह गया था.

मैच में अभी बीस ओवर का खेल बाक़ी था. ऐसे में लग रहा था कि भारत अब मैच अपने नाम करने के लिए थोड़ा तेज़ खेल सकता है. यह टेस्ट मैच वनडे क्रिकेट जैसा लगने लगा. तभी ऑस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने नियमानुसार दूसरी नई गेंद ली और तेज़ गेंदबाज़ पैट कमिंस को थमा दी.

कमिंस ने दूसरी ही गेंद पर चेतेश्वर पुजारा को एलबीडब्ल्यू कर दिया और भारतीय टीम के ड्रेसिंग रूम की धड़कनें बढ़ा दीं. उसके बाद कमिंस ने नए बल्लेबाज़ मयंक अग्रवाल को भी मैथ्यू वेड के हाथों कैच लपकवाकर भारत को एक झटका और दिया.

Source

Show More

Related Articles

Back to top button